शून्य
अगर समय मिले तो एक बार इस पोस्ट पर आने का कष्ट करें। आज कुछ लिख नहीं रहा बल्कि एक वीडियो आपसे साथ बांटना चाहता हूं। हालांकि इसमें देखने लायक कुछ नहीं है क्योंकि एक ही चित्र पूरी वीडियो में है। लेकिन इसमें सुनने लायक है गाना। दरअसल ये गाना मैंने खुद ही लिखा, गाया और कंपोज़ किया है। जो मन में आता गया मैं गाता गया। और बाद में इसे मिक्स कर दिया।
धन्यवाद।
9 Responses
  1. Syed Akbar Says:

    सुनदर प्रयोग, आपके इस मिजाज़ से पहली बार रूबरू हुआ.

    .....अच्छा लगा.


  2. Syed Akbar Says:

    सुन्दर प्रयोग, आपके इस मिजाज़ से पहली बार रूबरू हुआ.

    .....अच्छा लगा.


  3. बहुत बढ़िया गाया है . बधाई.


  4. अच्छा प्रयास था. "तेरे बिन सूना सा है जहाँ": के बाद एक मिनट से अधिक आप चुप रहे फिर "हर पल तेरी याद" आ रही है.


  5. आज पहली बार आना हुआ है शायद आपके ब्लोग पर। पर गाना तो सुन नही पाऐगे। रात को कैसे चलाए। खैर बाद में ही सही। वैसे आपके ब्लोग का रंग रुप अच्छा है।


  6. बढ़िया लगा यह गीत भी और कम्पोजिंग भी ...



  7. ye kiskee foto chupa ke rakhe ho is gaane me.
    aakhir me halka halka chehra dikh raha hai.
    :-D

    lagta hai ye dil ka mamla hai.
    lage raho bhaiya.


  8. aapki aawaa z bahut achchchee hai... par poore blog ko dekhkar yahi lagta hai ki aap kisi ke gam mei ghulte hi jaa rahe hai:(