Aadarsh Rathore

कार्टून अभिव्यक्तिकरण का सबसे सटीक माध्यम है। हरिओम तिवारी जी के ये कार्टून देखें।
कितने पूर्ण और सार्थक हैं। वरन् दिन ब दिन कार्टून खुद में 'कार्टून' बन कर रह गए हैं
|
5 Responses
  1. बहुत खूब आदर्श भाई.


  2. mehek Says:

    waah badhiya rahe


  3. Ankur Gupta Says:

    वाह! मजा आ गया



  4. materials Says:

    Although we have differences in culture, but do not want is that this view is the same and I like that!
    age of conan power leveling