Aadarsh Rathore
दिनांक 13-04-10
आईपीएल का महत्वपूर्ण मैच
चेन्नई और कोलकाता
दोनों टीमें आमने-सामने
सेमीफाइन की दौड़ में
दोनों की जीत ज़रूरी
फिर भी तय है
केकेआर की हार
कल्पना भी दुखद है
लेकिन निश्चित है

केकेआर समर्थक का दर्द :(
|
8 Responses
  1. मुझे तो शर्म आ रही है राठौड़ साहब आप ऐसी टीम का समर्थन कर रहे हैं


  2. Mumbai Indians ke alawa koi daawedaar nahi hai IPL-3 ka. Jab tak ganguly hai, kkr ka kuch nai ho sakta


  3. Jandunia Says:

    सुंदर रचना। फिलहाल वक्त मुंबई इंडियन्स यानि सचिन तेंदुलकर का है। वैसे भी हार-जीत लगी रहती


  4. vikas Says:

    कल्पना सही निकली आपकी,लेकिन यह तो खेल है.
    मगर क्या किया जाय जिस टीम का समर्थन मन से किया जाता है उसको हारता हुआ नहीं देखा जा सकता है ...

    विकास पाण्डेय
    www.vicharokadarpan.blogspot.com


  5. मुझे तो मैच फिक्स लगते है आईपीएल के...केकेआर का इतनी नाम है लेकिन फिसड्डी ही रहती है


  6. Yachna Says:

    कोलकाता ही हार पर दुख है


  7. Neha Pathak Says:

    आईपीएल ना देखते हुए भी सिर्फ एक कारण से मेरी मित्र मंडली केकेआर का समर्थन करती रही....वो है शाहरुख़ खान.....
    हमारे लिए ये हार केकेआर की नहीं शाहरुख़ खान की है, अतः हम भी शोक सभा में शरीक हो रहे है. :)


  8. हजारों ख्वाहिशें ऐसी कि हर ख्वाहिश पे दम निकले...